Hello Reader
Books in your Cart

Just Like That - Second edition 2017 (जस्ट लाइक दैट - द्वितीय संस्करण)

Just Like That - Second edition 2017 (जस्ट लाइक दैट - द्वितीय संस्करण)
-20 %
Just Like That - Second edition 2017 (जस्ट लाइक दैट - द्वितीय संस्करण)
Product Views: 1400
  • Sold by Sooraj Pocket Books
  • Seller Rating:    0 Reviews
  • Contact Seller
  • ₹120
    M.R.P.:
    ₹150
    Inclusive of all taxes
    Reward Points: 400
    Every Love Story Has A Different Angle, Which One is Yours? लव चैप्टर #1 (नुक्कड़ वाला लव) जावेद को नुक्कड़ पर ''सोनिया'' से प्यार हो गया था. पर सोनिया तो इससे बिलकुल अनजान थी. पर जावेद का ढीठ प्यार, उन कुत्तों वाली कड़कती ठण्ड में भी बरकरार था, हर सुबह एक नए प्लान के साथ उस नुक्कड़ वाले प्यार पर बीरबल की खिचड़ी को पकाने जावेद उठा जाया करता था! ना जाने कितने प्यार इन नुक्कड़ों पर पकते हैं, पर क्या जावेद का नुक्कड़ वाला प्यार आखिर में सफल हो पाया ? लव चैप्टर #2 (कॉलेज वाला लव) कॉलेज में पहले दिन से जाने कितनो को कितनो से लव होना स्टार्ट हो जाता है, पर ''अविनाश'' और ''मोहिनी'' जब कॉलेज में मिले, एक सच्चा वाला दोस्ती का रिश्ता सा बन गया. करीबी तो तब बढ़ी जब कॉलेज के वेलकम पार्टी में दोनों ने एक साथ गाना गाया. खूबसूरत और चंचल मोहिनी के लिए अविनाश एक सच्चा दोस्त था और अविनाश के लिए मोहिनी दोस्त से बढ़कर..

    Book Details

    Pustak Details
    Sold By Sooraj Pocket Books
    Author Mithilesh Gupta 
    ISBN-13 9781635350678
    Edition 1st Edition
    Format Paperback
    Pages 205 Pages
    Publication Year 2017

    Reviews

    Ask for Review

    Write a book review

    Book Description

    Every Love Story Has A Different Angle, Which One is Yours? लव चैप्टर #1 (नुक्कड़ वाला लव) जावेद को नुक्कड़ पर ''सोनिया'' से प्यार हो गया था. पर सोनिया तो इससे बिलकुल अनजान थी. पर जावेद का ढीठ प्यार, उन कुत्तों वाली कड़कती ठण्ड में भी बरकरार था, हर सुबह एक नए प्लान के साथ उस नुक्कड़ वाले प्यार पर बीरबल की खिचड़ी को पकाने जावेद उठा जाया करता था! ना जाने कितने प्यार इन नुक्कड़ों पर पकते हैं, पर क्या जावेद का नुक्कड़ वाला प्यार आखिर में सफल हो पाया ? लव चैप्टर #2 (कॉलेज वाला लव) कॉलेज में पहले दिन से जाने कितनो को कितनो से लव होना स्टार्ट हो जाता है, पर ''अविनाश'' और ''मोहिनी'' जब कॉलेज में मिले, एक सच्चा वाला दोस्ती का रिश्ता सा बन गया. करीबी तो तब बढ़ी जब कॉलेज के वेलकम पार्टी में दोनों ने एक साथ गाना गाया. खूबसूरत और चंचल मोहिनी के लिए अविनाश एक सच्चा दोस्त था और अविनाश के लिए मोहिनी दोस्त से बढ़कर प्यार, प्रपोज़ करना उतना भी आसान नहीं होता जितना की फिल्मो और किताबों में बताया जाता है, कॉलेज में लव अक्सर सफल भी हो जाता है और टूट भी जाता है, पर ये लव जुड़ने से पहले ऐसा टूटा की ढाई साल मोहिनी और अविनाश एक दूसरे से बात नहीं कर पाए... क्या एक लड़का और लड़की कभी अच्छे वाले दोस्त नही बन सकते ?? लव चैप्टर #3 (लाइफटाइम वाला लव) लाइफ में बड़े कम लोग होते हैं जो अपने प्यार को लाइफ टाइम वाले लव के रूप में साकार कर पाते हैं, ''प्राची'' ने एक नज़र में ''अनिकेत' पर ऐसा जादू कर दिया था की वो डांस क्लास से डेली अब अपनी फ्रेंड आस्था के घर आने लगा. आस्था की रुममेट प्राची से अनिकेत की दूरियां जब नज़दीकियों में बदली, इश्क़ परवान चढ़ गया. शादी से लेकर सारे प्लान चंद महीनो में बुन लिए गए. पर क्या वह एक लाइफ टाइम वाला लव बन सका?

    Seller Featured Products