Hello Reader
Books in your Cart

As per guidelines, our shipping partners are only delivering essential items for current period. We will resume deliveries shortly. 

Just Like That - Second edition 2017 (जस्ट लाइक दैट - द्वितीय संस्करण)

Just Like That - Second edition 2017 (जस्ट लाइक दैट - द्वितीय संस्करण)
-20 %

Advertisement

Subscribe to us!

Just Like That - Second edition 2017 (जस्ट लाइक दैट - द्वितीय संस्करण)
No. Of Views: 2028
₹120
₹150
Reward Points: 400
Every Love Story Has A Different Angle, Which One is Yours? लव चैप्टर #1 (नुक्कड़ वाला लव) जावेद को नुक्कड़ पर ''सोनिया'' से प्यार हो गया था. पर सोनिया तो इससे बिलकुल अनजान थी. पर जावेद का ढीठ प्यार, उन कुत्तों वाली कड़कती ठण्ड में भी बरकरार था, हर सुबह एक नए प्लान के साथ उस नुक्कड़ वाले प्यार पर बीरबल की खिचड़ी को पकाने जावेद उठा जाया करता था! ना जाने कितने प्यार इन नुक्कड़ों पर पकते हैं, पर क्या जावेद का नुक्कड़ वाला प्यार आखिर में सफल हो पाया ? लव चैप्टर #2 (कॉलेज वाला लव) कॉलेज में पहले दिन से जाने कितनो को कितनो से लव होना स्टार्ट हो जाता है, पर ''अविनाश'' और ''मोहिनी'' जब कॉलेज में मिले, एक सच्चा वाला दोस्ती का रिश्ता सा बन गया. करीबी तो तब बढ़ी जब कॉलेज के वेलकम पार्टी में दोनों ने एक साथ गाना गाया. खूबसूरत और चंचल मोहिनी के लिए अविनाश एक सच्चा दोस्त था और अविनाश के लिए मोहिनी दोस्त से बढ़कर..
Pustak Details
Sold BySooraj Pocket Books
AuthorMithilesh Gupta 
ISBN-139781635350678
Edition1st Edition
FormatPaperback
Pages205 Pages
Publication Year2017

Reviews

Write a review

Note: HTML is not translated!
Bad Good
Captcha

Book Description

Just Like That - Second edition 2017 (जस्ट लाइक दैट - द्वितीय संस्करण)

Every Love Story Has A Different Angle, Which One is Yours? लव चैप्टर #1 (नुक्कड़ वाला लव) जावेद को नुक्कड़ पर ''सोनिया'' से प्यार हो गया था. पर सोनिया तो इससे बिलकुल अनजान थी. पर जावेद का ढीठ प्यार, उन कुत्तों वाली कड़कती ठण्ड में भी बरकरार था, हर सुबह एक नए प्लान के साथ उस नुक्कड़ वाले प्यार पर बीरबल की खिचड़ी को पकाने जावेद उठा जाया करता था! ना जाने कितने प्यार इन नुक्कड़ों पर पकते हैं, पर क्या जावेद का नुक्कड़ वाला प्यार आखिर में सफल हो पाया ? लव चैप्टर #2 (कॉलेज वाला लव) कॉलेज में पहले दिन से जाने कितनो को कितनो से लव होना स्टार्ट हो जाता है, पर ''अविनाश'' और ''मोहिनी'' जब कॉलेज में मिले, एक सच्चा वाला दोस्ती का रिश्ता सा बन गया. करीबी तो तब बढ़ी जब कॉलेज के वेलकम पार्टी में दोनों ने एक साथ गाना गाया. खूबसूरत और चंचल मोहिनी के लिए अविनाश एक सच्चा दोस्त था और अविनाश के लिए मोहिनी दोस्त से बढ़कर प्यार, प्रपोज़ करना उतना भी आसान नहीं होता जितना की फिल्मो और किताबों में बताया जाता है, कॉलेज में लव अक्सर सफल भी हो जाता है और टूट भी जाता है, पर ये लव जुड़ने से पहले ऐसा टूटा की ढाई साल मोहिनी और अविनाश एक दूसरे से बात नहीं कर पाए... क्या एक लड़का और लड़की कभी अच्छे वाले दोस्त नही बन सकते ?? लव चैप्टर #3 (लाइफटाइम वाला लव) लाइफ में बड़े कम लोग होते हैं जो अपने प्यार को लाइफ टाइम वाले लव के रूप में साकार कर पाते हैं, ''प्राची'' ने एक नज़र में ''अनिकेत' पर ऐसा जादू कर दिया था की वो डांस क्लास से डेली अब अपनी फ्रेंड आस्था के घर आने लगा. आस्था की रुममेट प्राची से अनिकेत की दूरियां जब नज़दीकियों में बदली, इश्क़ परवान चढ़ गया. शादी से लेकर सारे प्लान चंद महीनो में बुन लिए गए. पर क्या वह एक लाइफ टाइम वाला लव बन सका?
Raise your Query?
Let's help