Hello Reader
Books in your Cart

Sooraj Pocket Books

युवा करोड़पति प्रभु सोनकर अपनी गर्लफ्रेंड, जो बहुत जल्द उसकी लाइफ पार्टनर बनने वाली थी, के साथ एक हिल स्टेशन पर पहली बार घूमने आया था पर वहाँ एक लाश उसके गले ऐसी पड़ी कि उसका जीना हराम हो गया. आखिर किसकी थी वो लाश? ….क्यों उसने प्रभु सोनकर की अच्छी भली लाइफ को भंवर की नाव बना दिया? क्या वज़ह थी …..जबकि..
₹137 ₹200
When a 41-year-old IT professional dropped dead from the balcony of a five star hotel, a wide array of questions were raised. Was it a simple case of suicide or an intriguing murder? What was the reason for victim’s presence in a hotel rather than office on a working day? CID Officer Mak was committ..
₹67 ₹100
एक तरफ है सूर्यगढ़ का ड्रग माफिया दिलावर सिंह दूसरी तरफ मुम्बई का भाई सलीम लुहार। इनकी खूनी गैंगवार के बीच आ फंसता है अभिषेक मिश्रा नाम का एक आम शख्श। बेहद तेजी से अभिषेक जुर्म की दुनिया में सफल होता चला जाता है और एक दिन सूर्यगढ़ का ड्रग-बादशाह बन जाता है। परन्तु जावेद-अमर-जॉन और सूर्यगढ़ का एस पी गौर..
₹120 ₹150
Showing 1 to 3 of 3 (1 Pages)
Raise your Query?
Let's help