Hello Reader
Books in your Cart

Preton Ka Nirmata

Preton Ka Nirmata
-20 %

Advertisement

Subscribe to us!

Tags: Thriller
Preton Ka Nirmata
No. Of Views: 1587
₹128
₹160
Reward Points: 420
जासूसी साहित्य को वापस उसकी ऊंचाइयों पर ले जाने के प्रयास में सूरज पॉकेट बुक्स फिर आपके सामने लेकर आया है 60 के दशक का एक शाहकार प्रेतों का निर्माता। जिसका इंतेज़ार आप सभी को था-60 और 70 के दशक में श्री वेद प्रकाश कम्बोज जी ने अपनी लेखनी से पॉकेट उपन्यास की दुनिया में तहलका मचा दिया। जासूसी लेखन में विज्ञान की अद्भुत सम्भावनाओं का मिश्रण कर उन्होंने एक से एक शाहकार रचे। प्रेतों का निर्माता में भी उनमें से एक है, जिसमें सभी के चहेते किरदार विजय अल्फांसे और विजय का दुश्मन दोस्त गिल्बर्ट एक बार फिर सबके सामने आये और विजय को मिला एक नया सहयोगी धनुष्टंकार।विज्ञान के रोमांच से भरपूर एक ऐसा उपन्यास शुरू से अंत तक अनेकों रहस्यों को समेटे रखता है। कैसे भारत के एक छोटे से शहर में हुई घटना विश्व की महाशक्तियों को घुटनों पर ला देती है। पढ़िये और जानिए उन किरदारों को जिन्होंने दो से ज्यादा दशकों तक पाठको..
Pustak Details
Sold BySooraj pocket books
AuthorVed Prakash Kamoz
FormatPaperback
Pages205
Publication Date (YYYY-MM-DD)2018-09-15
Publication Year2018
CategoryThriller

Reviews

Write a review

Note: HTML is not translated!
Bad Good
Captcha

Book Description

Preton Ka Nirmata

जासूसी साहित्य को वापस उसकी ऊंचाइयों पर ले जाने के प्रयास में सूरज पॉकेट बुक्स फिर आपके सामने लेकर आया है 60 के दशक का एक शाहकार प्रेतों का निर्माता। जिसका इंतेज़ार आप सभी को था-60 और 70 के दशक में श्री वेद प्रकाश कम्बोज जी ने अपनी लेखनी से पॉकेट उपन्यास की दुनिया में तहलका मचा दिया। जासूसी लेखन में विज्ञान की अद्भुत सम्भावनाओं का मिश्रण कर उन्होंने एक से एक शाहकार रचे। प्रेतों का निर्माता में भी उनमें से एक है, जिसमें सभी के चहेते किरदार विजय अल्फांसे और विजय का दुश्मन दोस्त गिल्बर्ट एक बार फिर सबके सामने आये और विजय को मिला एक नया सहयोगी धनुष्टंकार।विज्ञान के रोमांच से भरपूर एक ऐसा उपन्यास शुरू से अंत तक अनेकों रहस्यों को समेटे रखता है। कैसे भारत के एक छोटे से शहर में हुई घटना विश्व की महाशक्तियों को घुटनों पर ला देती है। पढ़िये और जानिए उन किरदारों को जिन्होंने दो से ज्यादा दशकों तक पाठकों के दिलों पर राज किया।
Raise your Query?
Let's help