Hello Reader
Books in your Cart

Network Marketing se Ameer Baniye - Hardcover

Network Marketing se Ameer Baniye - Hardcover
-15 %

Advertisement

Subscribe to us!

Network Marketing se Ameer Baniye - Hardcover
No. Of Views: 260
₹298
₹350
Reward Points: 800
लगभग हर कोई धनी बनना चाहता है, लेकिन सभी धनी नहीं बन पाते, क्योंकि अधिकांश व्यक्ति धनी बनने की केवल आकांक्षा ही रखते हैं। वे लोग कभी भी गंभीरता से यह विचार करने का प्रयास ही नहीं करते हैं कि कोई व्यक्ति धनी है, तो वह धनी क्यों है? बहुत कम लोग ही सचमुच में इस प्रश्न का उत्तर ढूँढ़ने की कोशिश करते हैं। इसका प्रमाण यह है कि बहुत कम लोग ही सचमुच में धनी बन पाते हैं, क्योंकि जिन लोगों को धनी बनने का कारण पता चल जाता है, उनमें से भी बहुत कम लोग ही धनी बनने के रास्ते पर कदम बढ़ा पाने का साहस जुटा पाते हैं और ऐसे साहसी लोगों में भी बहुत कम होते हैं, जो इस जोखिम भरे रास्ते पर लगातार चलते रह पाते हैं और अंततः धनी बन पाते हैं। इस साहसी वर्ग के लोगों में अधिकांश ऐसे होते हैं, जो पहले या दूसरे झटके के बाद ही घुटने टेक देते हैं और अपने औसत व्यक्ति के पुराने सुविधाजनक रास्ते पर वापस लौट आते हैं। अधिकांश ..
Pustak Details
Sold ByPrabhat Prakashan
AuthorPradeep Thakur
ISBN-139789387968646
Edition1
FormatHardcover
LanguageHindi
Pages168
Publication Year2019
CategoryBooks/Business & Economics/Business, Strategy & Management

Reviews

Write a review

Note: HTML is not translated!
Bad Good
Captcha

Book Description

Network Marketing se Ameer Baniye - Hardcover

लगभग हर कोई धनी बनना चाहता है, लेकिन सभी धनी नहीं बन पाते, क्योंकि अधिकांश व्यक्ति धनी बनने की केवल आकांक्षा ही रखते हैं। वे लोग कभी भी गंभीरता से यह विचार करने का प्रयास ही नहीं करते हैं कि कोई व्यक्ति धनी है, तो वह धनी क्यों है? बहुत कम लोग ही सचमुच में इस प्रश्न का उत्तर ढूँढ़ने की कोशिश करते हैं। इसका प्रमाण यह है कि बहुत कम लोग ही सचमुच में धनी बन पाते हैं, क्योंकि जिन लोगों को धनी बनने का कारण पता चल जाता है, उनमें से भी बहुत कम लोग ही धनी बनने के रास्ते पर कदम बढ़ा पाने का साहस जुटा पाते हैं और ऐसे साहसी लोगों में भी बहुत कम होते हैं, जो इस जोखिम भरे रास्ते पर लगातार चलते रह पाते हैं और अंततः धनी बन पाते हैं। इस साहसी वर्ग के लोगों में अधिकांश ऐसे होते हैं, जो पहले या दूसरे झटके के बाद ही घुटने टेक देते हैं और अपने औसत व्यक्ति के पुराने सुविधाजनक रास्ते पर वापस लौट आते हैं। अधिकांश लोग अपनी नौकरियों से दुःखी मिलेंगे, लेकिन उनमें संभवतः कोई भी आपको स्वामी बनने की सलाह नहीं देगा, क्योंकि नौकरी करनेवाली बहुसंख्यक जनसंख्या बहुत अच्छी तरह से जानती है कि स्वामी बनना मुश्किल व जोखिम भरा है, जबकि स्वामियों की नौकरी करना सबसे आसान और सबसे अधिक सुरक्षित। नेटवर्क मार्केटिंग की बारीकियों को अत्यंत सरल-सुबोध भाषा में प्रस्तुत कर इस क्षेत्र में सफलता पाने की एक व्यावहारिक हैंडबुक।
Raise your Query?
Let's help