Hello Reader
Books in your Cart

Meri Anubhuti Mala

Meri Anubhuti Mala
Meri Anubhuti Mala
Shorten the URL
Shorten the book link using GetPustak
Product Views: 238
₹199
Reward Points: 498
मेरी कविताओं के इस संकलन में 51 कविताएँ है। प्रत्येक कविता अपने आपमें एक छोटा सा उद्देश्य व सन्देश लिए है । परिस्थितियाँ, सम्बन्ध, जीवन शैली आज के समाज को बहुत प्रभावित करती हैं । मनुष्य आसपास में घट रही वास्तविकता से अछूता नहीं रह सकता । इन्हीं से मेरी कविताओं का जन्म हुआ है । सभी कविताएँ कल्पना पर आधारित नहीं हैं बल्कि कुछ वास्तविक घटना व आसपास की परिस्थितियों को अपने आप में  समेटे हुए हैं । ये मेरे मन के गीत हैं जो मेरे अंतर्मन की गहराइयों का सार हैं । आशा है  मेरा प्रयास पाठकों को कुछ नया चिंतन, मनन व अहसास कराए । मन को भाए । मेरी कविताओं के इस संकलन में 51 कविताएँ है । प्रत्येक कविता अपने आपमें एक छोटा सा उद्देश्य व सन्देश लिए है । परिस्थितियाँ, सम्बन्ध, जीवन शैली आज के समाज को बहुत प्रभावित करती हैं । मनुष्य आसपास में घट रही वास्तविकता से अछूता नहीं रह सकता । इन्हीं से मेरी कविताओं क..

Reviews

Write a review

Note: HTML is not translated!
Bad Good
Captcha

Book Description

मेरी कविताओं के इस संकलन में 51 कविताएँ है। प्रत्येक कविता अपने आपमें एक छोटा सा उद्देश्य व सन्देश लिए है । परिस्थितियाँ, सम्बन्ध, जीवन शैली आज के समाज को बहुत प्रभावित करती हैं  मनुष्य आसपास में घट रही वास्तविकता से अछूता नहीं रह सकता । इन्हीं से मेरी कविताओं का जन्म हुआ है । सभी कविताएँ कल्पना पर आधारित नहीं हैं बल्कि कुछ वास्तविक घटना व आसपास की परिस्थितियों को अपने आप में  समेटे हुए हैं । ये मेरे मन के गीत हैं जो मेरे अंतर्मन की गहराइयों का सार हैं  आशा है  मेरा प्रयास पाठकों को कुछ नया चिंतन, मनन व अहसास कराए  मन को भाए । मेरी कविताओं के इस संकलन में 51 कविताएँ है  प्रत्येक कविता अपने आपमें एक छोटा सा उद्देश्य व सन्देश लिए है  परिस्थितियाँ, सम्बन्ध, जीवन शैली आज के समाज को बहुत प्रभावित करती हैं  मनुष्य आसपास में घट रही वास्तविकता से अछूता नहीं रह सकता  इन्हीं से मेरी कविताओं का जन्म हुआ है । सभी कविताएँ कल्पना पर आधारित नहीं हैं बल्कि कुछ वास्तविक घटना व आसपास की परिस्थितियों को अपने आप में  समेटे हुए हैं । ये मेरे मन के गीत हैं जो मेरे अंतर्मन की गहराइयों का सार हैं । आशा है  मेरा प्रयास पाठकों को कुछ नया चिंतन, मनन व अहसास कराए मन को भाए 

Latest Books on PustakMandi

Seller Featured Products

Raise your Query?
Let's help